Chennai floodsप्रकृति के नियमों से छेड़-छाड़ करने पर मनुष्य विभिन्न आपदाओं का सामना करता हुआ आया है । अभी हाल ही में चेन्नई के रहिवासियों को अधि-भौतिक क्लेश का एक नमूना देखने को मिला जिसमे अत्यधिक वर्षा के कारण सम्पूर्ण चेन्नई शहर और उसके आस-पास की जगह बाढ़ की चपेट में आ गयी । ३-४ दिनों तक शहर का संपर्क बाकी के देश से टूट गया था । इससे इस्कॉन चेन्नई भी अछूता नहीं रहा ।

चेन्नई में बाढ़ आपदा से बचाव कार्य तो ख़त्म हो गया है परन्तु अभी असली चुनौती बाकी है । बाढ़ के बाद स्वच्छ एवं पौष्टिक भोजन, पीने और स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सबंधी की वस्तुओं के आभाव में लोग परेशान हैं। अब चेन्नई को सबसे अधिक सहायता की आवश्यकता है ।

शहर के बाकी हिस्सों की तरह इस्कॉन चेन्नई भी बाढ़ की चपेट में था फिर भी मंदिर के कुछ भक्तों की सहायता से आस-पास के लोगो तक निजी आवश्यकता की वस्तुओं को पहुँचाने का प्रयास कर रहा है । मंदिर के स्वयंसेवक प्रतिदिन करीब ६००० प्लेट प्रसाद, शहर के उन इलाकों में जहाँ अब भी घुटनों तक पानी है, वहां के लोगो में वितरित कर रहे हैं।

इस्कॉन अब अपनी सेवाएँ दवाइयों, सफाई के उपकरणों, डॉक्टर, कम्बल, चद्दर, कपड़ों आदि वस्तुओं को लोगों तक पहुंचाने में प्रयासरत है।

Chennai Floods Chennai Floods1 Chennai Iskcon Temple in flood3