Indonesia Rathyatra4Indonesia Rathyatra Indonesia Rathyatra1 Indonesia Rathyatra2 Indonesia Rathyatra3  Indonesia Rathyatra5 Indonesia Rathyatra6 Indonesia Rathyatra7 Indonesia Rathyatra8
                                                      श्रील प्रभुपाद के इंडोनेशिया में प्रचार की इच्छानुसार हमने बन्दुंग में एक और रथयात्रा का आयोजन करने का प्रयास किया।  बन्दुंग एक छोटा सा द्वीप है। यहाँ पर सरकार द्वारा एक वार्षिकोत्सव का आयोजन किया जाता है।  जिसमे एक परेड निकाली जाती है और कई सरकारी संस्थाएं और कलाकार इसमें भाग लेते हैं।
इस वर्ष के उत्सव का थीम था “अनिमलिया” । सभी को अपनी झांकियों को पशुओं से सजाना था और यह हमारे लिए और सरल हो गया जब हमारे रथ पर दो श्वेत घोड़े पहले से ही बने हुए थे।
इंडोनेशिया के हर कोने से भक्तों ने इस उत्सव् में भाग लिया और इसको सफल बनाया।  कई वरिष्ठ वैष्णव और सन्यासी भी इस उत्सव में आये।
 रथयात्रा के आरंभ में शंखध्वनि के बीच जगन्नाथ, बलदेव और सुभद्रा जी को रथ पर आरूढ़ किया गया । रथ को खींचते हुए कुछ ही दूर जाने पर देवताओं में हर्ष उत्पन्न हुआ और वर्षा प्रारम्भ हो गयी भक्तों में उत्साह और बढ़ गया और कीर्तन और नृत्य के मध्य रथ को खींच कर उत्सव स्थल तक लाया गया।
पूरे रास्ते भक्तों ने हरेकृष्ण कीर्तन किया और नृत्य करते हुए श्रील प्रभुपाद की पुस्तकों  और महाप्रसादम का वितरण भी किया। हमारे रथ को तृतीय स्थान प्राप्त हुआ परन्तु हजारों लोगों ने परम-दयालु जगन्नाथ जी के दर्शन करके अपना जीवन सफल बनाया ।
जय जगन्नाथ, बलदेव, सुभद्रा
प्रेषक : ISKCON Desire Tree – हिंदी
hindi.iskcondesiretree.com
facebook.com/IDesireTreeHindi