Detroit Rathyatra3Detroit Rathyatra4Detroit Rathyatra5Detroit Rathyatra6

 

 

 

 

 

डेट्रोइट इस्कॉन ने अनुमानित 10,000 दर्शकों के संग अपनी सबसे बड़ी उपस्थिति वाली 30 वीं वार्षिक रथयात्रा, 19 जुलाई को मनाई ! भव्य उद्घाटन समारोह में भक्तों द्वारा अद्भुत कीर्तन, वैदिक शिल्पकला की प्रदर्शनी, खाना पकाने की विधि और मनोरंजन के अन्य साधन थे।

खूबसूरती से सजाई गयी भगवान जगन्नाथ, बलदेव और माता सुभद्रा को ले जाने के लिए एक भव्य स्वर्णिम पालकी सबसे अद्भुत थी । पास में 200 से अधिक मेहमानों ने हृदय के शुद्धिकरण हेतु भगवान के निकट बैठकर एक माला हरे कृष्ण महामंत्र का जप किया । श्रील प्रभुपाद का इस विश्व को सबसे अनुपम उपहार – उनकी पुस्तकों की प्रदर्शनी में दिन भर लोगों का जमावड़ा रहा, जहाँ से कई लोगो ने इन दिव्य पुस्तकों को भी ख़रीदा । रथयात्रा स्थल पर निरंतर आनंदित करने वाली दिव्य कीर्तन ध्वनि पूरे वातावरण को मनमोहक बना रही थी । अंत में, सभी परिवारों को श्रील प्रभुपाद के 12 वर्ष में हुए चमत्कार, मंदिर की गतिविधियों, वैष्णव भजन आदि की एक सुंदर वर्णन युक्त रंगीन स्मारिका-पुस्तक भेंट की गयी।

जब अमेरिकी कांग्रेस के डेविड ट्रॉट मुख्य अतिथि के रूप में उद्घाटन समारोह में शामिल हुए तो शायद वह दिन का सबसे बड़ा आश्चर्य था। शहर के प्रमुख अधिकारियों सहित उद्घाटन समारोह के लिए पहले से ही कई बड़े अतिथि उपस्थित थे, उनमे मेयर, नगर परिषद के अन्य अधिकारी, नगर प्रबंधक और कई प्रभावशाली व्यक्ति सम्मिलित थे।

मेयर गैट Detroit Rathyatra1Detroit Rathyatra2Detroit Rathyatraकांग्रेसी ट्रॉट के भीड़ को संबोधित करने के पहले दोनों को श्रील प्रभुपाद की भगवद्गीता एक प्रति भेंट की गयी । मेयर गैट तो भेंट पाकर इतने उत्साहित हुए की भरी भीड़ में उन्होंने कहा कि, “मैं अति-सम्मानित अनुभव कर रहा हूँ । मैं आज से ही इसे पढ़ना आरम्भ कर दूंगा ।” कांग्रेसी ट्रॉट ने उत्सव के लिए अपने सम्पूर्ण समर्थन का वचन दिया और अनुरोध किया कि जब भी जरूरत पड़े आप मुझे संपर्क कर सकते हैं।

तीव्र गर्मी और उमस भी दिन भर किसी के आनंद में बाधा डालने में सफल नहीं हुयी । 150 से अधिक समर्पित स्वयंसेवकों ने अद्भुत प्रदर्शन द्वारा इस बात पर पर प्रकाश डाला कि श्रील प्रभुपाद का इस्कॉन हम सभी को कैसे बचा सकता है ।

अभी से स्वयंसेवकों ने अगले साल होने वाले अद्भुत रथयात्रा के लिए योजना बना शुरू कर दिया है।